पद्म श्री पी वी सिंधु का नाम खेल मंत्रालय द्वारा पदम भूषण सम्मान के लिए भेजा गया

पी वी सिंधु

2015 में पदम् श्री से सम्मानित, रियो ओलंपिक में रजत पदक विजेता व वर्तमान में अपने करियर की सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग ‘दो’ पे काबिज 22 वर्षीय बैडमिंटन खिलाड़ी पुसरला वेंकट सिंधु का नाम ‘पद्म भूषण’ सम्मान के लिए खेल मंत्रालय द्वारा भेज गया।

इस जाट बाला को भारत की ओर से ओलंपिक खेलो में महिला एकल बैडमिंटन का रजत पदक जीतने वाली पहली खिलाड़ी होने का गौरव प्राप्त है। उन्होंने सिंतबर में वर्ल्ड चैम्पिकनशिप की स्वर्ण पदक विजेता जापान की नोजोमी ओकुहारा को हराकर कोरिया ओपन सुपरसीरीज टाइटल जीता। पी वी सिंधु कोरिया ओपन सुपर सीरीज जितने वाली पहली भारतीय है। इस वर्ष पी वी सिंधु के 3 अंतरराष्ट्रीय टाइटल्स हो गए है, कोरिया ओपन सुपर सीरीज, सैयद मोदी इंटरनेशनल औऱ इंडियन ओपन टाइटल्स।

Rio de Janeiro: India’s Pusarla V Sindhu poses with her silver medal after her match with Spain’s Carolina Marin in women’s Singles final at the 2016 Summer Olympics at Rio de Janeiro in Brazil on Friday.

वर्ष 2016 में सिंधु ने चाइना ओपन सुपर सीरीज प्रीमियर, इंडियन ओपन सुपर सीरीज औऱ साथ ही वर्ल्ड चैम्पिकनशिप में रजत पदक भी जीता।

सिंधु ने मात्र 8 वर्ष की उम्र से ही बैडमिंटन खेलना शुरू कर दिया था, प्रारंभ में उनके पिता उनकी रुचि ओर लगन को देख कर रोजाना घर से 30 KM दूर ट्रेनिंग के लिए लेकर जाते थे। सिंधु कभी हार नही मानती, ये उनके करियर ग्राफ को देख कर पता चलता है।

ये भी पढ़े-जज्बे व लगन का दूसरा नाम- राजकुमार राव माँ के देहांत के बाद भी किया काम पूरा

एक ऐसे देश मे जहाँ क्रिकेट राज करता हो वह एक सनसनी की तरह उभरना ही नही बल्कि चमकते रहना यह काबिलेतारीफ है। उन्हें अभी बहुत आगे जाना है, हम सभी भारतवासियो की शुभकामनाएं उनके साथ है।

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram