मिस्टर 360 – ए बी डिविलियर्स ने कहा क्रिकेट को अलविदा

आज पूरे क्रिकेटिंग जगत को सख्ते में डालते हुए क्रिकेट के “मिस्टर 360” अब्राहम बेंजामिन डिविलयर्स ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के सभी प्रारूपों (टी-20 ,टेस्ट ,वनडे ) से संन्यास का एलान कर दिया है | 34 वर्षीय दक्षिण अफ्रीकी दिग्गज ने बुधवार के अपने निजी ऐप पर एक वीडियो सन्देश के माध्यम से सभी दर्शको के यह बात बताई |

ए बी डी का पूरा सन्देश 

“इतने सारे इंटरनेशनल क्रिकेट मैच खेलने के बाद वक़्त आ चुका है कि औरो के मौका मिले ,मेरी पारी यहीं समाप्त हुई और सच बताऊँ तो मैं अब थक चुका हूँ | मैंने इस फैसले को लेकर काफी सोचा था और वाक़ई यह बेहद मुश्किल था परन्तु मुझे यह निर्णय लेना ही था | मैं चाहता था कि टॉप फॉर्म में क्रिकेट के अलविदा कहूँ और भारत फिर ऑस्ट्रेलिया के बनाम शानदार सीरीज जीत और उसमे किये अच्छे प्रदर्शन के बाद मुझे इससे अच्छा मौका पीछे हटने का नहीं लगा |

मेरे पास यह भी विकल्प था कि मैं सिर्फ एक फॉर्मेट में खेलूं पर वह उचित नहीं होता जैसा कि मैंने पहले टेस्ट से अनिश्चित संन्यास लेकर किया था क्यूंकि जब मैं आधे वक़्त फुर्सत में बैठा रहता तो अन्य फॉर्मेट में खेलने पर न मज़ा मिलता न ही फिटनेस व फॉर्म साथ देता |

मेरे लिए हरी और सुनहरी जर्सी में खेलना ही आर-पार की बात रही है | मैं हमेशा अपने कोचेस ,स्टाफ और खिलाडियों का शुक्रगुज़ार रहूँगा जिन्होंने इतने सालो तक मुझे बेहतर किया ,मेरा साथ दिया और अपना समझा ,वाकई आपके बगैर मैं आधा ही हूँ |

यह कहीं और कुछ हासिल करने की बात नहीं है बल्कि जब गाड़ी में गैस ख़त्म हो जाये तो उसे हटा देनी की बात है क्योंकि हर चीज़ का अंत होना तय है इसलिए मेरे अंतिम दिन मैं अपने प्रशसंको और समर्थको का उनकी विनम्रता , आदर व स्नेह के प्रति अपना आभार व्यक्त करता और मेरे इस फैसले के समझने के लिए ख़ास धन्यवाद |

मेरे मन में विदेश में खेलने के लेकर कोई विचार नहीं है हालांकि मैं अपनी टीम टाइटन के साथ खेलना जारी रखूँगा और फाफ डु प्लेसिस और पूरी प्रोटियस टीम के मेरा खुला साथ है आप सभी का धन्यवाद अपने प्यार व समर्थन के लिए ”

20 साल की उम्र में साल 2004 में बतौर ओपनर अपने इंटरनेशनल क्रिकेट की शुरुआत करने वाले ए बी डिविलयर्स ने अपने अंदर तब्दीलियां लाते हुए मध्यक्रम से लेकर लोअर आर्डर तक की बल्लेबाज़ी , ऑउटफील्डिंग ,विकेटकीपिंग और यहाँ तक कप्तानी की ज़िम्मेदारी भखूबी निभाई | उनकी कप्तानी में ही टीम ने सेमिफाइनल तक का सफर तय किया था |

Image result for ab de villiers first match

उन्होंने ने अपने करियर में 123 टेस्ट क्रिकेट ,228 वनडे , 78 इंटरनेशनल टी-20 मैच खेले | उनकी रेकॉर्डों की पेहरिस्त अपने आप में उनके बहुमुखी कौशलता की गवाही देती है |

– वनडे में सबसे तेज़ शतक  -50 (16) 

– सबसे तेज़ शतक -100 (36 )

– सबसे तेज़ डेढ़शतक -150 (64)

-वर्ल्ड नंबर 2 (वनडे) में रहते हुए रिटायरमेंट 

– दक्षिण अफ्रीका के लिए टेस्ट मैच में दूसरे बड़े रन मेकर 

आईपीएल में भी खेलते हुए उन्होंने टीम रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के 2011 का उप-विजेता और 2015 में प्लेऑफ तक पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई थी | उनके नाम आईपीएल में 3 शतक है |

2019 के वर्ल्ड कप में दक्षिण अफ्रीका की टीम बल्लेबाज़ी के मोर्चे पर ए बी डिविलियर्स पर ही दारोमदार थी लेकिन इस फैसले के बाद उसे बेहद झटका लगा है क्योंकि इन -फॉर्म बल्लेबाज़ जो मैच का रुख अपनी तरफ बदलने का समार्थ्य रखता हो ढूढ़ने से भी नहीं मिलता है |

Image result for mister 360 cricket

मिस्टर 360 को आज का रिपोर्टर का सलाम ! 

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram