वाह ! क्रिकेट – इंग्लैंड की टीम ने बना डाला अब तक का सबसे बड़ा वनडे टीम स्कोर

सच कहा गया कि क्रिकेट अनिश्चिताओं का खेल है जिससे देश -विदेश में मज़हब का दर्जा हासिल है और इसकी चमक ऐसी है कि फुटबॉल के महाकुम्भ फीफा वर्ल्ड कप की सुबुगाहट के बीच खबरों की कड़ी में प्रथम पंक्ति हासिल की है| इस बार किस्सा है एक बड़े रिकॉर्ड का|

इंग्लैंड ने ट्रेंट ब्रिज में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 6 विकेट पर 481 रन बनाकर वन डे इंटरनेशनल में एक नया विश्व रिकॉर्ड स्थापित किया है। रिकॉर्ड 45 वें ओवर में स्थापित हुआ था जब इंग्लैंड ने 446 रन बनाए थे। दिलचस्प बात यह है कि पिछले रिकॉर्ड में इंग्लैंड ने 2016 में पाकिस्तान के खिलाफ तीन विकेटों के नुकसान पर 444 रन बनाए थे। यह रिकॉर्ड भी ट्रेंट ब्रिज में ही बना था|

इंग्लैंड के लिए एलेक्स हेल्स और इऑन मॉर्गन बल्लेबाजी कर रहे थे जब टीम ने वन डे इंटरनेशनल के इतिहास में एक नया मील का पत्थर स्थापित करने के लिए अपने पिछले रिकॉर्ड को तोड़ दिया। हालांकि, हेल्स लंबे समय तक मैदान पर नहीं रह सके क्योंकि उन्हें रिचर्डसन द्वारा 47 वें ओवर में ऑस्ट्रेलिया के अग्रर ने कैच पकड़ा था। सलामी बल्लेबाज जॉनी बैरस्टरो की 92 गेंदों पर 139 रनों और जेसन रॉय की 61 गेंदों में 82 रनों तेजतर्रार पारी ने इंग्लैंड को एक शानदार शुरुआत दी, इस शानदार शुरुआत के बाद हेल्स की 147 रनों व कप्तान मॉर्गन की 30 गेंदों में 67 रनों की आतिशी पारी से इंग्लैंड यह विश्व रिकॉर्ड बना पाया।

इंग्लैंड कप्तान की रिकॉर्ड पारी

इंग्लैंड के वनडे कप्तान इऑन मॉर्गन ने 21 गेंदों पर पच्चासे से इस प्रारूप में देश के सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी बनने का गौरव पाया| गेंदों के मुकाबले किसी भी इंग्लैंड के बल्लेबाज द्वारा सबसे तेज पच्चासा उनके द्वारा लगाया गया| उन्होंने 30 गेंदों पर 67 रनो की पारी खेली जिसमें 6 छक्के व 3 चौके शामिल है|

आपको बता दें कि इससे पहले सबसे ज़्यादा वनडे टीम स्कोर का रिकॉर्ड इन टीमों ने बनाये है

  • श्रीलंका – 443-9 बनाम नीदरलैंड , 2006
  • दक्षिण अफ्रीका -439-2 बनाम वेस्टइंडीज ,2015
  • दक्षिण अफ्रीका 438 -9 बनाम ऑस्ट्रेलिया ,2006

भारत ने वेस्टइंडीज के खिलाफ 2011 में 418/5 रन बनाये थे जिसमें वीरेंद्र सेहवाग ने शानदार दोहरा शतक ठोका|

इंग्लैंड ने यह मैच ऑस्ट्रेलिया को 239 रनों पर समेटते हुए 242 रनों से यह मैच जीत लिया, ऑस्ट्रेलिया की तरफ से एक मात्र अर्धशतक हेड ने बनाया, स्टोनिस ने भी 44 रनों के योगदान दिया, शेष बल्लेबाज संघर्ष करते रहे।

क्रिकेट में रिकॉर्ड बनते ही है टूटने के लिए, वनडे क्रिकेट में 2006 में ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका के बीच मैच में जब पहली बार 400 रन बन बने तो किसी ने नहीं सोचा था कि यह रेकॉर्ड टुटेगा और ऑस्ट्रेलिया यह मैच हारेगी, लेकिन दक्षिण अफ्रीका ने ना सिर्फ वो मैच जीता बल्कि वनडे क्रिकेट में सर्वाधिक स्कोर का वर्ल्ड रिकॉर्ड भी बनाया।

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram