हॉकी के चैंपियंस ट्रॉफी टूर्नामेंट मैच में भारत ने पाकिस्तान को चटाई धूल

वैसे तो भारतीय टीम अपने किसी भी खिलाड़ी दुश्मन को बख्शती नहीं, लेकिन जब उसका सामना प्रतिद्वंदी के रूप में पाकिस्तान की टीम से होता है तो भारतीय टीम अपनी पूरी ताकत के साथ मैदान पर उतरती है, और दमखम के साथ पाकिस्तानी टीम को घुटनों के बल बिठा देती है। कुछ ऐसा ही हुआ है हॉकी के चैंपियंस ट्रॉफी हॉकी टूर्नामेंट के शुरूआती मैच में, जहां पर भारत के हॉकी खिलाड़ियों ने पाकिस्तान को 4- 0 से मात देकर उन्हें करारी शिकस्त दी है।

भारत ने पाकिस्तान को 4- 0 से रौंदा-

हॉलैंड के ब्रेडा शहर में चैंपियंस ट्रॉफी हॉकी टूर्नामेंट का आयोजन किया गया है, जहां पर शुरुआती मैच भारत और पाकिस्तान के बीच होना था। मैच के शुरुआती दौर में किसी भी पाले में अनुमान लगाना कठिन था कि कौन सी टीम ज्यादा दमदार नजर आ रही है, लेकिन! जब भारतीय खेमे से गोल दागने की शुरुआत हुई तो ये अनवरत चलती रही और एक के बाद एक 4 गोल भारतीय खिलाड़ियों ने पाकिस्तान के खिलाफ दागे जबकि पाकिस्तान भारतीय टीम के खिलाफ एक भी गोल नहीं दाग पाए। और इसी के साथ भारतीय टीम ने पाकिस्तान को विदेश की धरती में रौंदकर चैंपियंस ट्रॉफी हॉकी टूर्नामेंट का शानदार आगाज किया। भारत की ओर से रमनदीप सिंह, दिलप्रीत सिंह, मनदीप सिंह और ललित ने शानदार गोल दागकर भारतीय हॉकी टीम को जीत दिलाई.

25वें मिनट से हुई गोल दागने की धुंआधार शुरुआत-

भारतीय खिलाड़ियों ने 25 मिनट में गोल करके बढ़त बनाने की शुरुआत की। जिसके बाद रमनदीप सिंह ने सिमरनजीत सिंह के पास से शानदार गोल किया। हालांकि तीसरे क्वार्टर के दूसरे ही मिनट में पाकिस्तान के अली शाह ने भारत के खिलाफ गोल दागा लेकिन भारतीय टीम ने ‘रेफरल’ लिया जिसके बाद पाकिस्तान के गोल को गलत करार दिया गया। उसके बाद दिलप्रीत ने एक लंबे पास के बाद गोलकीपर को छकाते हुए गोल किया। अंतिम समय में ललित उपाध्याय और मनदीप सिंह की सूझबूझ से ललित ने आखिरी गोल करके भारत को 4-0 के बेहतरीन स्कोर पर लाकर खड़ा कर दिया।

चैंपियंस ट्रॉफी से आज तक दूर है भारतीय हॉकी टीम –

भारतीय हॉकी टीम ने 36 बार एशियाई चैंपियनशिप का मैच खेला है, लेकिन आज तक भारतीय हॉकी टीम ने एक बार भी चैंपियंस ट्रॉफी का खिताब अपने नाम नहीं किया है। भारतीय हॉकी टीम की विश्व रैंकिंग छठवें नंबर पर है जबकि पाकिस्तान की रैंकिंग 13वें नंबर पर है। इस शानदार शुरुआत से लग रहा है कि भारतीय हॉकी टीम इस बार ज्यादा तैयारी के साथ मैदान पर उतरी है और उम्मीद है कि अगर ऐसा ही प्रदर्शन भारतीय हॉकी खिलाड़ियों ने बरकरार रखा तो इतिहास बदलने में देर नहीं होगी। वहीं भारतीय हॉकी टीम का ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में आयोजित किए गए कॉमनवेल्थ खेलों में निराशाजनक प्रदर्शन रहा था। वहीं इस ट्रॉफी की महत्ता इसलिए और भी बढ़ जाती है क्योंकि अगस्त में होने वाले एशियाड और दिसंबर में होने वाले वर्ल्ड कप मैच में इस जीत के साथ भारतीय टीम बेहतरीन दावेदारी के साथ मैदान पर उतरेगी।

भारत की ये शुरुआत अच्छी कही जा सकती है, क्योंकि गत वर्ष भी उसने टूर्नामेंट में शानदार प्रदर्शन किया था लेकिन वह चैंपियंस ट्रॉफी की हकदारी से दूर रह गई थी। फाइनल मैच में भारत को, ऑस्ट्रेलिया को मिले पेनल्टी शूटआउट के जरिए हार का सामना करना पड़ा था। गौरतलब है कि इस टूर्नामेंट में भारत और पाकिस्तान के अलावा ऑस्ट्रेलिया,बेल्जियम, अर्जेंटीना और चैंपियंस ट्रॉफी हॉकी टूर्नामेंट की मेजबानी कर रहा हॉलैंड देश भी शामिल है।

Connect with Us! अपनी राय कमेंट्स में दें. ताजा ख़बरों के लिए हमें फॉलो करें. अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई, तो इसे लाइक और शेयर करना न भूलें. Subscribe our Youtube Channel: AajKaReporter Follow us on: Facebook, Twitter, Instagram